Monday, October 6, 2008

प्यार हुवा इकरार हुवा है फ़िल्म : श्री ४२०

प्यार हुआ, इकरार हुआ है

प्यार से फ़िर क्यो डरता हैं दिल

कहता हैं दिल रास्ता मुश्किल

मालूम नही, हैं कहा मंजिल


कहो की अपनी परीत का गीत ना बदलेगा कभी

तुम भी कहो इस राह का मीत ना बदलेगा कभी

प्यार जो टूटा, साथ जो छूटा

चाँद ना चमकेगा कभी



राते दसो दिशाओं से, कहेंगी अपनी कहानियाँ

गीत हमारे प्यार की दोहराएगी जवानीयाँ

मई ना रहूँगी, तुम ना रहोगे

फ़िर भी रहेगी, निशानियाँ